Uncategorized

साहब बदले तो बैठक का स्वरूप ही बदल गया,महज खाना पूर्ति की शांति समिति बैठक आयोजित।

रायपुरिया@राजेश राठौड़

त्योहारों को देखते हुए जिले के थानाएवं चौकी पर शांति समिति बैठक करने निर्देश पुलिस अधीक्षक आगम जैन साहब द्वारा थाना प्रभारीयो को दिए गए है लेकिन रायपुरिया थाना परिसर में लंबे समय बाद आयोजित शांति समिति की बैठक गिने चुने लोगो के साथ कब हुई उसकी गांव के गणमान्य नागरिकों को मालूम ही नहीं पड़ा आज बैठक तो रखी गई लेकिन गणमान्य नागरिकों और किसी भी पत्रकार को इनकी सूचना भी नहीं दी गई थाना प्रभारी द्वारा ऐसे में किस तरह वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश को केवल कागजी खाना पूर्ति की गई यह बैठक की संख्या बया करती है इसके पहले भी शांति समिति की बैठक का आयोजन होता आया है जिसमे सूचना गणमान्य नगरीको के साथ पत्रकारो को भी दी जाति रही है पहले जो भी थाना प्रभारी रहे उन्होंने मोबाइल फोन के माध्यम से तथा पुलिस जवान के साथ रजिस्टर में हस्ताक्षर कर सुचना करते थे की शान्ति समिति की बैठक रखी गई आपको थाने पर पहुंचना है।लेकिन इस बार ऐसी कोई सूचना देना थाना प्रभारी साहब ने उचित नही समझा महज ख़ान फुर्ती कर दी गई। वर्तमान में जो औपचारिक खाना पूर्ति वाली बैठक हुई यह बैठक विधिवत उपचट त्योहार के पहले होना थी शांति समिति की बैठक समय पर नही होने से उपछट के दीन जो माहौल ग्राम वासियो ने देखा वह इससे पहले कभी नही देखा गया किस तरह युवाओं की टोलियां उपचट वाले दीन उधम मचा रही थी वह सर्व विदित है। आमजनता ओर पुलिस में अच्छे सम्बन्ध रहे इसके लिए पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी समय समय पर बैठक करवाते है लेकिन यहां के थाना प्रभारी महोदय शांति समिति की बैठक चुनिंदा लोगो के साथ करके खाना पूर्ति करते हुवे पुलिस और आम जनता में मधुर सम्बन्ध या पुलिस से जान पहचाना रहे यह नही चाहते उनकी कार्यप्रणाली आज यह सवाल उठाने को विवश करती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×